मुसलमानो की आबादी को भाजपा के नेता बता रहे सिर्फ कोरा झूठ

0
35

भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के मुस्लिम समुदाय की आबादी पर बेतुके बयान आ रहे है, जिनके दम पर वे देश के बहुसंख्यक हिन्दू समुदाय में अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय का डर भर अपनी राजनीति चमकाना चाहते है. हाल ही में राजस्थान से बीजेपी विधायक बी एल सिंघल ने विवादास्पद बयान देते हुए कहा, हिन्दू दम्पति एक या दो संतान पैदा कर रहे हैं.

जबकि मुस्लिम दम्पति 8 से 14 बच्चे तक पैदा कर रहे हैं। कई बार तो मुस्लिम दम्पति संतान पैदा करने के लिए महिलाओं को खरीदकर लाते हैं और बच्चे पैदा करते हैं. जिस तीव्र गति से मुस्लिम आबादी बढ़ रही है, इससे आने वाले वर्षों में हिंदुओं का अस्तित्व खतरे में आ जायेगा. उन्होंने कहा कि मुस्लिम आबादी अधिक होने पर ज्यादा से ज्यादा राज्यों में मुख्यमंत्री, देश का प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति मुस्लिम होंगे.

मुसलमान हिंदुओं को जेल में ठूंस देंगे और हिंदुओं के संसाधनों का खुद इस्तेमाल करेंगे. इसी के साथ केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह कहा है कि मुस्लिमों की बढ़ी आबादी देश के लिए खतरा हो सकती है. गिरिराज ने कहा, ‘देश के अंदर बढ़ती हुई जनसंख्या और खासकर मुसलमानों की बढ़ती जनसंख्या सामाजिक समरसता के लिए तो खतरा है ही लेकिन विकास के लिए भी खतरा है.

इसलिए इस पर बहस होनी चाहिए और कानून बनना चाहिए. बीजेपी नेताओं के इन आधारहीन बयानों की पोल जनसँख्या के आकडे खोल रहे है. ये आकडे बता रहे है कि हिन्दुओ की तुलना में मुस्लिमों की जनसँख्या वृद्धि दर बहुत कम है. जबकि ऐसी स्थिति में हिन्दू देश में बहुसंख्यक है. 2050 तक भारत में मुस्लिमों की जनसँख्या 18.4% से अधिक नहीं होगी.