आज तक नहीं देखी ऐसी राजनीती, कहीं केजरीवाल की ये मांफी चाल तो नहीं

0
49

हाल ही में सोशल मीडिया पर एक बड़ी खबर सामने आ रही है जिसमे आपको बतादें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के पूर्व मंत्री व अकाली नेता बिक्रम सिंह मजीठिया के बाद अब केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी व कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल से भी मानहानि केस में माफी मांग ली है। केजरीवाल के माफीनामे पर भाजपा ने उन्हें आड़े हाथों लिया है।

इतना ही नहीं दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने शक जताया है कि केजरीवाल के माफीनामे में कोई चालाकी छिपी हो सकती है। भाजपा नेता ने कहा कि केजरीवाल और उनके साथी अराजक राजनीति कर रहे हैं। वे गडकरी और अन्य राजनेताओं के विरुद्ध पहले अनर्गल आरोप लगाते हैं अब कानूनी कार्रवाई की डर से माफी मांग रहे हैं। उनकी माफी ने देश विशेष रूप से दिल्ली के लोगों के सामने उनका अराजक चेहरा उजागर कर दिया है।

वहीँ वह हमेशा ही अपने सियासी विरोधियों की छवि धूमिल करने के लिये झूठे आरोप लगाने की राजनीतिक करते रहे हैं। इसके लिए वह सूचना के अधिकार का दुरुपयोग करते हैं। मीडिया की गलत खबरों को भी अपना हथियार बनाते हैं। वह कानून का नियमित रूप से और आदतन उल्लंघन करते रहे हैं। उन्होंने माफीनामे की जो श्रृंखला शुरू की है वह उनकी चालाकी हो सकती है।

लेकिन देश ने अब तक इतनी ओछी राजनीति नहीं देखी है। वहीं, दिल्ली प्रदेश भाजपा के महामंत्री कुलजीत चहल का कहना है कि यह केजरीवाल का एक और यू-टर्न है। उन्होंने दिल्ली के जनता के साथ भी धोखा किया है। इसलिए उन्हें बताना चाहिए दिल्लीवासियों से वह कब माफी मांग रहे हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें