पाक सेना की कठपुतली हैं इमरान, बदलाव की उम्मीद नहीं: वीके सिंह

0
31

नई दिल्ली. विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान सरकार के ऊपर अभी भी सेना का नियंत्रण है। इमरान खान के प्रधानमंत्री चुने जाने के बावजूद अहम फैसले सेना लेती है। हालांकि, यह देखना होगा कि इमरान देश में कुछ बदलाव ला सकते हैं या नहीं।

फिक्की द्वारा स्मार्ट बॉर्डर मैनेजमेंट पर आयोजित दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस के उद्घाटन से इतर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान के साथ संवाद तभी हो सकता है जब वार्ता के लिए अनुकूल माहौल हो। यह पूछे जाने पर कि क्या पाकिस्तान की ओर से भारत के साथ आगे संवाद करने की कोई कोशिश की गई है, इस पर सिंह ने जवाब दिया, ‘भारत की नीति बिल्कुल स्पष्ट है। संवाद तभी हो सकता है जब माहौल उसके अनुकूल हो।’

विदेश राज्य मंत्री सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि पाकिस्तान में नयी सरकार के गठन के बाद भारत ‘‘देखो और प्रतीक्षा करो’’की नीति अपना रहा है।

पाकिस्तान में नयी सरकार बनने के बाद सीमा पर घुसपैठ की घटनाओं के बारे में पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा, “क्या आपको बदलाव की उम्मीद थी? मुझे नहीं पता। आखिरकार, सेना उस व्यक्ति का समर्थन कर रही है। सेना का अब भी शासन है। इसलिए, हम प्रतीक्षा करें और देखें कि चीजें कैसे चलती हैं – वह व्यक्ति सेना के नियंत्रण में रहता है या उसके नियंत्रण में नहीं रहता है.’’

सिख तीर्थयात्रियों के लिए करतारपुर सीमा खोलने के प्रस्तावों की खबरों का जिक्र करते हुए सिंह ने कहा कि भारत को रास्ता खोलने के संबंध में पाकिस्तान से “कोई प्रस्ताव नहीं मिला” है. उन्होंने कहा, “सरकार (पाकिस्तान) की ओर से कुछ भी नहीं आया है। यह मुद्दा लंबे समय से चल रहा है. अगर कुछ भी आता है तो हम आपको इसकी जानकारी देंगे। ’’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें