बिहार: सवर्ण समुदाय ने मनोज तिवारी को दिखाए काले झंडे, फेंकी चुड़ियां

0
37

भाजपा सांसद मनोज तिवारी को बिहार के भभुआ में शनिवार को स्वर्ण समाज के लोगों का भारी विरोध का सामना करना पड़ा। एसी एसटी एक्ट के विरोध में सवर्ण सेना के कार्यकर्ताओं ने न केवल उन्हे काले झंडे दिखाए बल्कि उन पर चुड़ियां भी फेंकी गई।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले सवर्ण समाज के युवक कार्यक्रम स्थल पर लगी कुर्सी पर बैठ गये थे। वे अपने पॉकेट में काला झंडा लिए हुए थे। दोपहर में 12.25 बजे जैसे ही सायरन बजाते वाहन के साथ गाड़ियों का काफिल नगरपालिका मैदान में पहुंचा, आगे की कतार में बैठे युवक अपने पॉकेट से काला झंडा निकालकर मंच की ओर दिखाते हुए मनोज तिवारी का विरोध करने लगे। करीब 20 मिनट तक विरोध का दौर चलता रहा।

कार्यक्रम में सांसद छेदी पासवान, बिहार के मंत्री बृज किशोर बिन्द, विधायक रिंकी रानी पाण्डेय, एमएलसी संतोष सिंह और विधायक निरंजन राम भी मौजूद थे। हालांकि, इस दौरान मौके पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारियों ने युवाओं को काफी समझाने का प्रयास किया।  लेकिन, उन्होंने उनकी एक नहीं सुनी। जब उन्हें पता चला कि इस काफिले में मनोज तिवारी नहीं हैं, तो युवक नगरपालिका गेट पर पहुंच गये और वाहनों के काफिले के साथ मनोज तिवारी को लोगों ने गाड़ी में बैठे देखा, रोड को जाम कर उन्हें घेर लिया।

इससे पहले कल केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे को भी भागलपुर के नौगछिया में सवर्ण सेना के कार्यकर्ताओं ने काला झंडा दिखाकर विरोध जताया था। सवर्ण सेना के कार्यकर्ता एससी-एसटी एक्ट में बदलाव को लेकर जमकर बीजेपी का विरोध कर रहे हैं और एक्ट में संशोधन वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

इसके अलावा  सीतामढ़ी में सवर्ण सेना के कार्यकर्ताओं ने नित्यानंद को काला झंडा दिखाया और वापस जाओ के नारे लगाए। नित्यानंद सीतामढी के रीगा में पार्टी के कार्यक्रम में भाग लेने गये थे। वहां उनको विधानसभा स्तरीय सम्मेलन में भाग लेना था इसी दौरान लोगों ने उनके काफिले को घेर लिया और काला झंडा दिखाया। नित्यानंद राय सीतामढ़ी के तीन दिवसीय दौरे पर हैं जहां उनको अलग-अलग कार्यक्रम में भाग लेना है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें