अमेरिकी प्रतिबंधों के आगे नहीं झुकेगा तुर्की, जारी रखेगा अमेरिका का विरोध: एर्दोगान

0
89

अंकारा – राष्ट्रपति रजब तय्यब ने सोमवार को कहा, तुर्की में अमेरिकी पादरी की गिरफ्तारी पर अंकारा पर प्रतिबंध लगाने के लिए अमेरिकी प्रयासों का विरोध करेगा, जो दो साल से हिरासत में लिया गया है. साथ ही एर्दोगान ने कहा की अमेरिका की मनमानी नहीं चलने देंगे.

रायटर्स के मुताबिक, ईसाई धर्म के पादरी एंड्रयू ब्रूनसन का मामला, जिसकी अगली अदालत की सुनवाई 12 अक्टूबर को है, ने अंकारा और वाशिंगटन के बीच संबंधों को संकट में डाल दिया है, जिससे अमेरिकी प्रतिबंध और टैरिफ बढ़ गए हैं जिसकी वजह से तुर्की की अर्थव्यवस्था काफी प्रभावित हुयी.

 

अमेरिका पादरी की रिहाई के लिए लगातार प्रयास कर रह है लेकिन तुर्की की तरह से कोई रहत नहीं मिल रही है जिसके चलते अमेरिका और तुर्की के बीच घमासान और भी बढ़ गया है. एर्दोगान की ट्रम्प से यह नाराज़गी UN में भी देखने को मिली ट्रम्प के भाषण के वक़्त एर्दोगान वहां से उठकर चले गये.

उत्तरी सीरिया में कुर्द सेनानियों, तुर्की की रूसी मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने की योजना और ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के लिए तुर्की बैंक के कार्यकारी की जेलिंग के आरोप में दो नाटो सहयोगियों के बीच संबंध पहले से ही विवादों से प्रभावित थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें