पुरी के जगन्‍नाथ मंदिर में जमकर हुई तोड़फोड़, दर्शन की नई व्‍यवस्‍था को लेकर हंगामा

0
19

पुरी: ओडिशा के पुरी जिले स्थित प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर में बुधवार को दर्शन करने के लिए लगने वाली कतार को लेकर जमकर हंगामा बरपा। श्री जगन्नाथ सेना के बंद के बाद पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच जमकर झड़प देखने को मिली।जिसमे 9 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

बवाल के बाद पुलिस ने कानून-व्यवस्था को बनाए रखने के लिए मंदिर के आसपास के इलाके में धारा 144 लागू कर दी है। पुलिस ने बताया कि श्री जगन्नाथ सेना द्वारा शहर में बुलाया गया दिन भर का बंद उस समय हिंसक हो गया जब मंदिर में भीड़ घुस गयी। भीड़ ने बैसी पहाचा और सिंहद्वार के नजदीक लगे बैरिकेडों को हटा दिया और श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजेटीए) के कार्यालय में तोड़फोड़ की।

इसके अलावा प्रदर्शनकारियों ने पुलिस चौकी और सुचना केंद्र पर भी पथराव किए जिसमे 9 पुलिसकर्मी घायल हो गए, पुलिस को भीड़ को नियंत्रित करने के लिए बलप्रयोग भी करना पड़ा, लेकिन वो भी निरर्थक रहा।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पथराव में नौ पुलिसकर्मी घायल हो गये जबकि भीड़ के हमले में कई ढांचों को व्यापक नुकसान पहुंचा। इसके कारण स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा। घटना के बाद मंदिर के आसपास के इलाकों में धारा 144 लागू कर दी गयी है।

बता दें कि श्री जगन्नाथ सेना के कार्यकर्ता कई तरह की मांग कर रहे थे इसमें एक हाल ही में दर्शन के लिए शुरू किए गए लाइन सिस्टम भी शामिल है। आज सुबह, पुलिस ने श्री जगन्नाथ सेना के संयोजक प्रियदर्शन पटनायक को भी हिरासत में ले लिया।

इसके बाद पटनायक ने कहा ‘हम भगवान जगन्नाथ के लिए मरने को भी तैयार हैं। प्रशासन हमें सिर्फ इतना बता दे कि हमें गिरफ्तार क्यों किया जा रहा है। भविष्य में भी यह प्रदर्शन जारी रहेगा।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें