2019 की हज यात्रा की घोषणा बस कुछ ही दिनों में होगी: मुख़्तार अब्बास नकवी

0
70

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज कहा कि हज-2019 की घोषणा अगले कुछ दिनों में कर दी जाएगी और इस संदर्भ में तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। इस दौरान उन्होने दावा किया कि हज सब्सिडी खत्म करने का फैसला हाजियों के हित में रहा, क्योंकि सब्सिडी खत्म किए जाने के बावजूद हज पर पहले के मुकाबले ज्यादा खर्च नहीं आया।

हज-2018 की समीक्षा और हज-2019 की तैयारियों पर विचार करने के लिए आयोजित बैठक के बाद मंत्री ने संवाददाताओं से कहा, ‘भारत के इतिहास में पहली बार वर्तमान हज प्रक्रिया पूरी होने के तुरंत बाद ही अगले हज की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। हज 2019 की घोषणा भी इसी महीने कर दी जाएगी।’

उन्होंने कहा, ‘‘बैठक में 2018 में बिना सब्सिडी के संपन्न पहली हज प्रक्रिया को हाजियों के हित में पाया गया। बिचौलियों एवं बेईमानी पर रोक का नतीजा रहा कि सब्सिडी खत्म होने के बावजूद हज 2018 गैर जरुरी महंगा नहीं हुआ।’’

नकवी ने कहा,‘‘ मिसाल के तौर पर बात करें तो 2014 में हज के लिए मुंबई का हवाई किराया 63,750 रुपये था, वह 2018 में 59,424 रुपये रहा। औरंगाबाद से हज का किराया 2014 में 83,450 रुपये था, वह 2018 में 81,929 रुपये था।’’

2017 में 1 लाख 24 हजार 852 हाजियों के लिए 1030 करोड़ रुपये एयरलाइन्स कंपनियों को हवाई किराये के रूप में दिए गए थे, जबकि 2018 में हज कमेटी ऑफ इंडिया के माध्यम से जाने वाले 1 लाख 28 हजार 702 हाजियों के लिए 973 करोड रुपये दिए गए जो पिछले वर्ष के मुकाबले 57 करोड़ रुपये कम है।’’
उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय ने सऊदी अरब हज कांसुलेट, हज कमिटी ऑफ़ इंडिया एवं अन्य सम्बंधित एजेंसियों के साथ मिल कर हज 2018 की तैयारियां समय से दो महीने पहले ही पूरी कर ली थी जबकि हज 2019 की प्रक्रिया तीन महीने पहले शुरू होगी। ताकि अगले हज पर जाने वाले यात्रियों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या ना हो।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें