बिना अनुमति सभा करने जा रही थी बीजेपी, EC ने कुर्सियां, राशन किया जब्‍त

0
31

छत्तीसगढ़ भाजपा को चुनाव आयोग ने बड़ा झटका देते हुए एक सभा से जुड़ा सामान जब्त कर लिया है। दरअसल, चुनाव आयोग ने ये कदम बिना अनुमति सभा करने को लेकर उठाया है।

जानकारी के अनुसार, जिलाधिकारी जयप्रकाश मौर्य ने सुकमा के कोंटा ब्लॉक के एर्राबोर में सभा आयोजित करने पर भाजपा अध्यक्ष मनोज देव को तलब करते हुए सभा स्थल से तंबू, दो टेंट, 70 कुर्सियां और बर्तन समेत राशन भी जब्त कर लिया।

बताया जा रहा है कि अधिकारियों ने मौके से 150 कुर्सियां, 4 साउंड बॉक्स, 4 टेबल, माइक सेट और 2 दरी जब्त किया है। लेदा में भी भाजपा द्वारा सभा करने की सूचना उच्चाधिकारियों को नहीं देने पर जिलाधिकारी सह निर्वाची पदाधिकारी ने सेक्टर अधिकारी और पंचायत सचिव को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

बता दें कि पिछले शनिवार (06 अक्टूबर) को चुनाव आयोग ने  5 राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, मिजोरम और तेलंगाना में होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। जिसके साथ ही पांचों राज्यों में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई।

मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने बताया कि छत्तीसगढ़ में दो चरणों में चुनाव होंगे। पहले चरण में नक्सल प्रभावित इलाकों में 12 नवंबर को मतदान होगा। दूसरे चरण में छत्तीसगढ़ के उत्तरी इलाके में 20 नवंबर को वोट डाले जाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि मध्य प्रदेश और मिजोरम में 28 नवंबर को मतदान होगा। वहीं, राजस्थान और तेलंगाना में सात दिसंबर को वोट पड़ेंगे। वोटों की गिनती 11 दिसंबर को की जाएगी।

आदर्श चुनाव आचार संहिता के मुताबिक किसी भी राजनीतिक दल द्वापा कोई भी चुनावी सभा करने से पहले प्रशासन से इजाजत लेना अनिवार्य होता है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें