दिल्ली: MCD के स्कूल में धार्मिक भेदभाव, हिंदू और मुस्लिम बच्‍चों के लिए अलग-अलग सेक्‍शन

0
57

उत्तर दिल्ली नगर निगम द्वारा नियोजित शिक्षकों द्वारा स्कूलों में धार्मिक भेदभाव का मामला सामने आया है। दरअसल, वजीराबाद के एक प्राइमरी स्कूल में हिंदू और मुस्लिम बच्चों के अलग-अलग सेक्शन बनाए गए हैं।

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, वजीराबाद, गली नंबर-9 में नॉर्थ एमसीडी ब्वॉयज स्कूल के अटेंडेंस रिकॉर्ड से पता चलता है कि धर्म के आधार पर अलग-अलग सेक्शन बनाए गए हैं। रिपोर्ट के अनुसार क्लास-1ए में 36 हिंदू, 1बी में 36 मुस्लिम, क्लास-2ए में 47 हिंदू, 2बी में 26 मुस्लिम और 15 हिंदू है। वहीं 2सी में 40 मुस्लिम छात्र हैं।

हालांकि, प्रधानाचार्य ने छात्रों को धर्म के आधार पर अलग-अलग सेक्शन में बांटने की बात को गलत बताया है। उन्होंने कहा, “कक्षाओं को सेक्शन में बांटना मानक प्रक्रिया है जो सभी स्कूलों में होती है। यह प्रबंधन का निर्णय था कि हम कुछ ऐसा करें जो सबसे अच्छा हो। स्कूल में शांति, अनुशासन और एक अच्छा सीखने का माहौल बना रहे। कभी-कभी बच्चे झगड़ भी जाते हैं। इसलिए सभी बातों का ध्यान रखा गया है।”

उन्होंने ये भी कहा, ‘बच्चे धर्म के बारे में नहीं जानते हैं, लेकिन कई चीजों पर मनमुटाव होता था। कुछ बच्चे शाकाहारी हैं, इसलिए भी दूरियां है। हमें सभी शिक्षक और विद्यार्थी के हित में देखना होगा।’

जानकारी के अनुसार, “2 जुलाई तो तत्कालिन प्रिंसिपल का तबादला कर दिया गया। इसके बाद एक शिक्षक को अगले प्रिंसिपल के नियुक्त होने तक विद्यालय का प्रभार दिया गया। उन्होंने इन बदलाव की शुरूआत की। इस मामले में शिक्षकों से परामर्श नहीं किया गया। जब कुछ शिक्षकों इससे संंबंधित बात की तो आक्रामक रूख अख्तियार करते हुए प्रभारी ने कहा कि उन्हें अपनी नौकरी की चिंता करनी चाहिए।”

दिल्ली के उत्तर नगर निगम के शिक्षा विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “अब यह हमारे संज्ञान में आया है। हम निश्चित रूप से इसके बारे में जांच करेंगे। अगर आरोप सही हैं, तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें