सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पर कांग्रेस, मुस्लिमों को मंत्री पद देने में की कंजूसी

0
87

एक तरफा मुस्लिम वोटों के दम पर मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में सत्ता में आई कांग्रेस ने सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पर चलते हुए मुस्लिम विधायकों को मंत्री पद देने में बड़ी कंजूसी दिखाई।

दरअसल, राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में सिर्फ एक-एक मुस्लिम मंत्री बनाया गया है।लेकिन समुदाय को उम्मीद थी कि छत्तीसगढ़ में 1 और मध्यप्रदेश में’ कम से कम 2 मुस्लिम मंत्री बनाए जाएंगे। वहीं राजस्थान में 3 से 4 विधायकों को मंत्री पद मिल सकता था।

हालांकि कांग्रेस ने बीजेपी के तर्ज पर ही राजस्थान में एक मंत्री बनाया है. जबकि कांग्रेस राजस्थान में सात विधायक जीत कर विधानसभा पहुंचे हैं। इस तरह मध्य प्रदेश में भी सिर्फ एक मुस्लिम को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है। जबकि राजपूत समाज के 8 विधायकों को मंत्री बनाया गया है।
हालांकि मध्य प्रदेश में मुस्लिम आबादी 7 प्रतिशत के करीब है।

वहीं छत्तीसगढ़ में एक ही मुस्लिम जीतकर विधानसभा पहुंचा है। इस मायने मे कांग्रेस अपनी पीठ थपथपा सकती है। माना जा रहा है कि 2019 से पहले कांग्रेस मुस्लिमपरस्त पार्टी होने का धब्बा नहीं झेलना चाहती है।

कांग्रेस के नेता राहुल गांधी साफ्ट हिंदुत्व के जरिए बीजेपी की पोल खोलने की कोशिश कर रहे है। लेकिन इससे मुस्लिम समाज को ऐतराज नहीं है। हालांकि एतराज इस बात को लेकर है जब मुस्लिम को राजनीतिक हिस्सेदारी देने की बात आती है तो कांग्रेस सेक्युलरवाद के आड़ में छिपने की कोशिश करती है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें