महिला IAS ने नोटों पर की थी गोडसे के फोटो को लगाने की मांग, एनसीपी की मांग – किया जाए सस्पेंड

0
87

मुंबई: महाराष्ट्र की आईएएस ऑफिसर निधि चौधरी द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर किए गए एक विवादित ट्वीट किया गया।

निधि द्वारा किया में महात्मा गांधी की हत्या की तारीख का जिक्र करते हुए नाथूराम गोडसे को धन्यवाद कहा गया। अपने ट्वीट में निधि ने लिखा, ‘150वीं जंयती को मनाने के पीछे क्या उम्मीद हो सकती है। ये सही वक्त है कि देश की करंसी से उनकी तस्वीर हटाई जाए और उनके स्टेटस को भी दुनिया से हटाया जाना चाहिए। अब हमें एक सच्ची श्रद्धांजलि देने की जरूरत है… धन्यवाद गोडसे 30. 01.1948 के लिए।’

निधि के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया में ही इस पर विवाद शुरू हो गया था। बाद में निधि ने यह ट्वीट डिलीट कर दिया था। निधि चौधरी 2012 बैच की आईएएस हैं।

निधि ने एक दूसरे ट्वीट में लिखा, “17 मई के अपने ट्वीट को मैंने डिलीट कर दिया, क्योंकि कुछ लोग इसे गलत समझ गए। अगर वो 2011 से मेरे टाइमलाइन को फॉलो किए हुए होते तो वे समझते कि मैं गांधी जी का अनादर करने की सोच भी नहीं सकती हूं, मैं उनके सामने पूरी श्रद्धा से सिर नवाती हूं और अपनी आखिरी सांस तक ऐसा करती रहूंगी।” इस वक्त वह BMC में कार्यरत हैं। इससे पहले वह सहायक कलेक्टर रह चुकी हैं।

निधि चौधरी के इस ट्वीट पर एनसीपी ने कड़ी आपत्ति जताई है और उन्हें नौकरी से सस्पेंड करने की मांग की है। एनसीपी नेता जितेंद्र अनहद ने कहा कि गांधी जी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी के लिए हम तुरंत निधि चौधरी के सस्पेंशन की मांग करते हैं, उन्होंने नाथूराम गोडसे को महिमामंडित किया है, इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें