चीन सीमा के नजदीक भारतीय वायुसेना का विमान लापता, अब तक नहीं लगा कोई सुराग

0
132

असम के जोरहाट एयरबेस से उड़ान भरने के बाद सोमवार को लापता हुए भारतीय वायुसेना के एएन-32 विमान का अब तक कोई सुराग नहीं मिला है। AN 32 विमान ने असम के जोरहाट से दोपहर 12 बजकर 25 मिनट पर 8 क्रू मेंबर और 5 यात्रियों के साथ उड़ान भरी था। विमान को अरुणाचल प्रदेश के मेंचुका एडवांस लैंडिंग ग्राउंड पर पहुंचना था। लैंडिंग ग्राउंड चीन सीमा के काफी करीब है।

वायुसेना ने विमान का तलाशी अभियान जोर शोर से शुरू कर दिया है। यह इलाका पहाड़ी और दुर्गम है। मौसम खराब होने की वजह से बचाव अभियान में भी दिक्कत आ रही है। वायुसेना खोजी अभियान में आर्मी की ग्राउंड फोर्स की भी मदद ले रही है। वायुसेना ने ट्वीट किया, ”कुछ रिपोर्ट्स में क्रैश साइट को लेकर आशंका जताई गई थी, लेकिन अब तक किसी तरह का मलबा नहीं मिला।”

भारतीय सेना के प्रवक्ता विंग कमांडर रत्नाकर सिंह ने कहा कि विमान में चालक दल के आठ सदस्यों समेत 13 लोग सवार थे और सभी वायुसेना से जुड़े थे। प्रवक्ता ने बताया कि विमान ने जोरहाट से दोपहर 12 बजकर 25 मिनट पर अरुणाचल प्रदेश के मेचुका एडवांस लैंडिंग ग्राउंड के लिए उड़ान भरी थी। लेकिन कुछ समय के बाद विमान का संपर्क टूट गया।

विमान का एयर ट्रैफिक कंट्रोल यानी एटीसी से आखिरी संपर्क दोपहर एक बजे हुआ था। विमान के तय समय पर मेनचुका एडवांस लैंडिंग ग्राउंडपर नहीं पहुँचने पर भारतीय वायुसेना ने तलाशी का काम शुरू किया। प्रवक्ता ने बताया कि सभी उपलब्ध संसाधनों से विमान को तलाश किया जा रहा है। भारतीय वायुसेना ने फिलहाल विमान की खोज के लिए एक सुखोई-30, सी-130 स्पेशल ऑप्स एयरक्राफ्ट, एएन-32, दो एमआई-17 हेलिकॉप्टर और सेना के दो एएलएच हेलिकॉप्टर लगाए हैं।

 इससे पहले जून 2009 में अरुणाचल प्रदेश के वेस्ट सियांग जिले के एक गांव के पास एएन-32 विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था जिसमें 13 रक्षाकर्मी मारे गये। जुलाई 2016 में एक एएन-32 विमान चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर की उड़ान भरने के बाद लापता हो गया था जिसमें 29 लोग सवार थे। कई सप्ताह तक तलाशी अभियान चलाने के बाद भी विमान का पता नहीं चला। कुछ महीने बाद वायुसेना की जांच में कहा गया कि इस बात की संभावना नहीं लगती कि विमान पर सवार हुए लापता लोग दुर्घटना में जीवित बचे होंगे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें