सचिन पायलट को लेनी चाहिए मेरे बेटे की हार की जिम्मेदारी: अशोक गहलोत

0
38

लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस में मचा घमासान अब भी जारी है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी राजस्थान और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्रियों को लेकर नाराज़गी पहले ही जाहीर कर चुके है। अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने बेटे वैभव गहलोत की जोधपुर सीट से हार के लिए सचिन पायलट को भी ज़िम्मेदार ठहराया है।

टीवी न्यूज चैनल एबीपी के साथ इंटरव्यू में गहलोत से पूछा गया कि क्या यह सच है कि जोधपुर से आपके बेटे का नाम पायलट ने ही सुझाया था? गहलोत ने कहा, ‘यदि पायलट ने ऐसा किया था तो यह अच्छी बात है। यह हम दोनों के बीच मतभेद की खबरों को खारिज करती है।’

इस बयान में उन्होंने कहा, ‘पायलट साहब ने यह भी कहा था कि वह बड़े अंतर से जीतेगा, क्योंकि हमारे वहां 6 विधायक हैं, और हमारा चुनाव अभियान बढ़िया था। तो मुझे लगता है कि उन्हें वैभव की हार की जिम्मेदारी तो लेनी चाहिए। जोधपुर में पार्टी की हार का पूरा पोस्टमॉर्टम होगा कि हम वह सीट क्यों नहीं जीत सके।’

गहलोत ने आगे कहा, पायलट ने कहा था कि हम जोधपुर जीत जीत रहे हैं। इसलिए वैभव को पार्टी से टिकट मिला। हम 25 की 25 सीटें हार गए। अगर कोई कहता है कि मुख्यमंत्री या पीसीसी प्रमुख को ज़िम्मेदारी लेनी चाहिए तो मेरा मानना है कि ये सबकी ज़िम्मेदारी है।

हालांकि, सचिन पायलट ने इस पर कोई भी प्रतिक्रिया देने से साफ इनकार कर दिया है। उन्होने गहलोत के इस बयान पर आश्चर्य जताया। बता दें कि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने वैभव गहलोत को करीब 4 लाख वोटों के अंतर से हराया है। यहां तक कि गहलोत की विधानसभा सीट सारदापुरा से भी वैभव 19000 वोटों से पीछे रहे। जबकि गहलोत 1998 से इस सीट से जीतते आ रहे हैं।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें