हाउती विद्रोहियों ने सऊदी की 20 सैन्य चौकियों पर किया कब्ज़ा, 200 सैनिकों की भी मौ’त

0
1966

हौती। यमन के विद्रोही समूह हौती ने सऊदी अरब के सीमा से सटे पड़ोसी इलाकों में कब्जा जमाने का दावा किया है। बुधवार को इस समूह ने दावा किया कि ‘उनकी सेना ने सीमा पार कर सऊदी अरब में प्रवेश किया और 20 से अधिक ठिकानों पर अपना कब्जा स्थापित किया।’ इस बारे में यमन की एक न्यूज एजेंसी की ओर से जानकारी मिल रही है।

यमन की न्यूज एजेंसी सबा ने हाउती प्रवक्ता याहया सराय के हवाले से बुधवार को बताया कि पिछले तीन दिनों के दौरान चलाए गए अभियान में सैन्य चौकियों पर कब्जा किया गया। प्रवक्ता ने कहा, ‘इस अभियान के दौरान सऊदी सेना के 200 सैनिक मारे गए या घायल हुए। इसके वीडियो फुटेज भी हमारे पास हैं। हम इसका बाद में प्रसारण करेंगे।’

अभी तक इन विद्रोहियों की ओर से किए जा रहे दावों की स्वतंत्र रूप से जांच नहीं की गई है। इसके साथ ही सऊदी अरब प्रशासन या उनके सेना की ओर से भी इस पर किसी तरह की टिप्पणी नहीं आई है। यमन में साल 2015 से गृहयुद्ध छिड़ा है। इसमें दस हजार से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं।

यमन में यह संघर्ष साल 2014 के अंतिम महीनों से शुरू हुआ। उस वक्त हौती विद्रोहियों और पूर्व राष्ट्रपति अली अब्दुल्लाह सालेह की वफादार सेना ने साथ मिलकर राजधानी सना समेत राष्ट्र के अधिकतर हिस्सों पर कब्जा कर लिया था।  इसके बाद मार्च, 2015 में उस वक्त युद्ध भड़क गया जब सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात के सैन्य संघठन ने हौती के खिलाफ हवाई मोर्चा खोल दिया।

इनका मकसद इस समूह से कब्जेवाले इलाकों को छिनकर अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त यमन सरकार के राष्ट्रपति अबू रब्बू मंसूर हादी से वापस करना था।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें