तबरेज की लिं’चिंग के विरोध में घेरा गया झारखंड भवन, प्रदेश के कई हिस्सों में भारी प्रदर्शन

0
1027

झारखंड के कोल्हान प्रमंडल क्षेत्र में कथित चोरी के आरोप में 24 साल के तबरेज़ अंसारी की पिटाई के बाद हुई मौत के मामला बढ़ता ही जा रहा है। प्रदेश की जनता ने अब मॉब लिंचिंग के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

बता दें कि 17 जून की रात में खरसावां के क़दमडीहा निवासी तबरेज़ को कुछ लोगों ने खंभे में बांधकर बेदर्दी से पीटा थे। इस दौरान उससे नाम पूछ कर ‘जय श्री राम’ और ‘जय हनुमान’ के नारे भी लगवाए गए।

तबरेज के पत्नी शाइस्ता परवीन ने पुलिस को अपनी शिकातय में कहा है कि 17 जून को उसके पति जमशेदपुर जा रहे थे, उसी दौरान धातकीडीह गांव में पप्पू मंडल और उनके लोगों ने उनके साथ मारपीट की।

तबरेज के पत्नी का कहना है कि उनलोगों ने रात भर उनके पति को बिजली के खंंभे में बांधकर रखा गया। इस दौरान उनसे जबरन जय श्री राम और जय हनुमान का नारा भी लगवाया गया।

शाइस्ता परवीन ने शिकायत मेंकहा कि रातभर मारपीट किए जाने के बाद सुबह उनके पति को सरायकेला जेल भेज दिया गया। तबरेज़ की शादी इसी साल 27 अप्रैल को हुई थी। वहीं तबरेज के परिजनों के मुताबिक मारपीट के दौरान तबरेज को धतूरे का जहरीला रस पिलाया गया था। जिससे उसकी मौत हो गई।

मृतक के रिश्तेदार मकसूद आलम ने कहा, ‘हम लोग पुलिस की अब तक की कार्रवाई से संतुष्ट हैं। एसपी ने हमें न्याय का भरोसा दिलाया है। मारपीट के दौरान तबरेज को धतूरे का जहरीला रस पिलाया गया। इससे उसके शरीर में जहर फैल गया और उसकी मौत हो गई।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें