अमेठी में कांग्रेस कार्यालय पर छापेमारी कर योगी सरकार ने दिखाई तानाशाही: उमर कासमी

0
64

भोपाल: मध्य प्रदेश कांग्रेस सचिव मौलाना उमर कासमी ने यूपी के अमेठी में लॉकडाउन के बीच कांग्रेस कार्यालय पर की गई छापेमारी को योगी सरकार की तानाशाही करार दिया।

उन्होने कहा कि अमेठी राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के दिल के करीब रहा है। ऐसे में कांग्रेस कार्यकर्ता गांधी परिवार के निर्देशन में इस मुसीबत की घड़ी में भोजन-राशन के जरिये गरीबों की मदद कर रहे है। लेकिन बीजेपी से ये देखा नहीं गया और गौरीगंज में कांग्रेस कार्यालय पर छापेमारी करा कर घटिया हरकत की।

कासमी ने बताया कि 1 अप्रेल को राहुल गांधी जी ने एक ट्रक गेहूं, एक ट्रक चावल और चार अप्रैल को 20 हजार मास्क,12 हजार सैनेटाइजर, 10 हजार साबुन तथा 17 अप्रैल को पांच ट्रक चावल, पांच ट्रक आटा, एक ट्रक दाल एवं अन्य राहत सामग्री जरूरतमंदों की मदद के लिये अमेठी भिजवाई थी। कार्यकर्ता गरीबों में इन वस्तुओं का ही वितरण कर रहे थे।

कांग्रेस सचिव ने कहा कि स्थानीय सांसद स्मृति ईरानी और भारतीय जनता पार्टी को राहुल गांधी की लोकप्रियता का डर सता रहा है। उन्होने कहा कि अमेठी कि जनता गांधी परिवार के दिलों में निवास करतीं है। हर मुसीबत में गांधी परिवार अमेठी और देश की जनता का साथ खड़ा है।

उन्होने कहा कि ऐसे वक्त में बीजेपी को राजनीति करने के बजाय आगे आकर गरीबों की मदद करनी चाहिए। उन्होने कहा, राहुल गांधी जी पहले ही कह चुके है ये वक्त राजनीति करने का नहीं बल्कि जनता की मदद करने का है।