ये कैसे क्वारंटीन सेंटर? कहीं अखबार पर खिलाये जा रहे दाल-भात, कहीं खाने में निकल रहे बिच्छू

0
57

देशभर में कोरोना वायरस के कारण हालत बेहद बुरे हैं. और चिंताजनक बात ये है कि ये हालत सुधरने की बजाय बद से बदतर होते जा रहे हैं. बात की जाए क्वारंटीन सेंटरों की तो इनके हालत भी बेहद बुरे हैं. इन क्वारंटीन सेंटरों में खाने की बदहाल व्यवस्था की तसवीरें सोशल मीडिया पर वायरल होकर जब-तब सरकारी दावों की पोल खोल रही हैं. क्वारंटीन सेंटरों में कहीं उबले चावल ही खाने के नाम पर दिए जा रहे हैं, तो कहीं ईमारत के शौचालय में ही क्वारंटीन कर वहीँ पर खाना खाने को मजबूर किया जा रहा है. हाल ही में छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव के कबीरधाम जिले के क्वारंटीन सेंटर तसवीरें सामने आई थीं, जहाँ प्रवासी मजदूरों को बर्तनों की बजाय अखबार पर दाल-चावल परोस दिए गए थे. तस्वीरों में अखबार से बाहर बहती दाल भी साफ़ दिख रही थी.

अब क्वारंटीन सेंटर की दु’र्दशा का मामला बिहार से सामने आया है. बिहार के दरभंगा के बद्री यादव उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय क्वारंटीन सेंटर में परोसे गए खाने में बिच्छू मिला है. यहाँ सब्जी में बिच्छू मिलने से हड़कंप मच गया. भोजन करने वाले चार लोगों को उल्टी होने से तबीयत बिगड़ गई. तबीयत बिगड़ने वालों में दीपक पासवान, प्रकाश यादव, राजेश यादव तथा प्रमोद पासवान शामिल हैं. सेंटर पर क्वारंटीन में रह रहे सभी 45 लोगों ने भोजन का वि’रोध कर दिया. बताया गया है कि दोपहर के भोजन में दाल, भात व सब्जी बनी थी. दस लोग एक साथ भोजन कर रहे थे. इसी क्रम में मनोज यादव को सब्जी के कटोरे में बिच्छू मिलने से हड़कंप मच गया.

इसकी जानकारी विद्यालय के प्रधानाचार्य राम यादव को दी गई. उन्होंने तुरंत सीओ को विषयवस्तु से अवगत कराया. सीओ अजीत कुमार झा ने वहां पहुंच कर रसोईये और व्यवस्थापक को फटकार लगाई. इसी बीच सूचना पर चिकित्सा प्रभारी डॉ. एनके लाल ने वहां पहुंचकर तबीयत बिगड़ने वालों को दवा दी. उन्होंने कहा कि बिच्छू के नाम सुनकर उल्टी हुई है, सभी ठीक है. बाद में बने भोजन को फेंक दिया गया और दोबारा भोजन बनने के बाद सभी को भोजन कराया गया.

यह टीशर्ट खरीदने के लिए इस फोटो पर क्लिक करें