केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के हवाले से ख़बर दी है कि बहुत हद तक संभव है कि अगले साल की शुरुआत तक भारत में कोविड19 की वैक्सीन आ जाए.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक़, एक बैठक में डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि अगले साल के शुरुआत तक भारत में वैक्सीन उपलब्ध हो सकती है और संभव है कि यह अलग-अलग माध्यमों से मिले.

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, “हम उम्मीद कर रहे हैं कि अगले साल की शुरुआत में हमारे पास वैक्सीन होगी और हो सकता है कि यह एक से अधिक माध्यम से प्राप्त हो. हमारे विशेषज्ञ देश में वैक्सीन के वितरण को रोल-आउट करने की योजना पर काम कर रहे हैं.”

विश्व स्वास्थ्य संगठन की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने भी उम्मीद जताई है कि बहुत संभव है कि साल 2020 के अंत तक या फिर अगले साल की शुरुआत तक एक वैक्सीन पंजीकरण के लिए तैयार हो जाए.