अबू धाबी के क्राउन प्रिंस और यूएई सशस्त्र बलों के उप सर्वोच्च कमांडर हिज हाइनेस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नहयान ने अबू धाबी में राजनयिक क्षेत्र में इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडालो के नाम पर एक मस्जिद बनाने का निर्देश दिया है। हिज हाइनेस शेख मोहम्मद ने राष्ट्रपति के सम्मान में राजधानी की प्रमुख सड़कों में से एक अल मैरीज स्ट्रीट का नाम बदलने का भी निर्देश दिया।

यह निर्देश यूएई के साथ इंडोनेशिया के राष्ट्रपति की घनिष्ठ मित्रता और अर्थव्यवस्था, वाणिज्य और विकास सहित कई क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने के उनके प्रयासों की मान्यता और सराहना के तहत हैं।

अबू धाबी की कार्यकारी परिषद के सदस्य और अबू धाबी के कार्यकारी कार्यालय के सदस्य हिज हाइनेस शेख खालिद बिन मोहम्मद बिन जायद अल नहयान ने मंगलवार को इंडोनेशिया के राष्ट्रपति विडालो के चुनाव की वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित एक समारोह में उद्घाटन किया। राष्ट्रपति जोको विडालो स्ट्रीट अबू धाबी के केंद्रीय व्यापार जिले के केंद्र में स्थित है।

सड़क के मुख्य स्थलों में अबू धाबी राष्ट्रीय प्रदर्शनी केंद्र, प्रमुख अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों, सम्मेलनों और प्रदर्शनियों के लिए दुनिया भर के विशेषज्ञ व प्रमुख कंपनियों, व्यवसायों और सरकारी संस्थाओं के मुख्यालय शामिल हैं। यह सड़क रणनीतिक रूप से डिप्लोमैटिक एरिया में स्थित है, जहां यूएई की राजधानी अबू धाबी में कई विदेशी दूतावासों के दफ्तर हैं।

2020 की शुरुआत में अबू धाबी की आधिकारिक यात्रा में राष्ट्रपति विडालो और शेख मोहम्मद बिन जायद ने शिक्षा और स्वास्थ्य, ऊर्जा, बंदरगाह व पर्यावरण के साथ विभिन्न क्षेत्रों में आपसी सहयोग बढ़ाने के लिए यूएई और इंडोनेशिया में विभिन्न संस्थाओं के बीच 16 समझौतों पर हस्ताक्षर किए।