हमारा देश महान है और यहां आये दिन कुछ ना कुछ ऐसा होता रहता है जो सुर्खियों का कारण बन जाता है तो अब ये है की कर्नाटक के उडुपी शहर में स्थित हेजामाडी गांव के लोगों ने टोल बूथ से बचने के लिए नया रास्ता निकाला है.

दरअसल गांव के लोगों की शिकायत थी कि हेजामाडी गांव के पास स्थित टोल गेट पर टोल बहुत ज्यादा था जिसे वो देने इ सक्षम नहीं थे. इसलिए ग्राम पंचायत ने टोल बूथ के बगल से एक रोड ही बना दी.

कर्नाटक के गांव हेजामाडी के लोगों को टोल बूथ से गुजरना पड़ता था, जो गांव की सीमा में आता है. जब उडुपी टोलवे प्राइवेट लिमिटेड (एनयूटीपीएल) ने हेजामाडी एनएच टोलगेट पर हेजामाडी गांव जाने वाले सभी वाहनों की मुफ्त आवाजाही रोक दी, तो गांव के लोगों ने पंचायत अध्यक्ष प्रणेश हेजामाडी से शिकायत की इसके बाद जो हुआ वो पूरे देश इ उसकी चर्चा हो गयी.

प्रणेश ने यह बात अधिकारियों के सामने रखी लेकिन वहां कोई सुनवाई नहीं हुई. इसलिए उन्होंने टोल बूथ के समानांतर एक सड़क ही बना दी. यह सड़क 30 मार्च को बनाई गई थी. इसके बाद टोल गेट के ठेकेदार हेजामाडी ग्रामीणों के नाम पर पंजीकृत सभी वाहनों की मुफ्त आवाजाही की अनुमति देने पर सहमत हो गए.