हमारे देश भारत में एक से बढ़कर एक बंदा मौजूद है, कुछ तो इतने पहुंचे हुए हैं की बाकी ओग उनके आगे पानी भरते नज़र आये. मोटरसाइकिल के स्टैंड को “भाई,साहब आपका स्टैंड खुला है”, जैसे परोपकारी समाज में अपनी छत का छज्जा बढ़ा लेना हम सभी का मूलभूत अधिकार है. अब देखो ना घर के सामने रोड होगी 20 फिट की और इधर से सीढ़िया ..उधर से सीढियां ..इधर से छज्जा उधर से छज्जा .. लो जी रोड हो गयी अब 8 फिट चौड़ी.

खैर बात तो हम ऐसे कारीगर की कर रहें हैं जिसने रोड दबाने वाले सभी महानुभावों को पीछे छोड़ते हुए नंबर 1 की पोजीशन हासिल की है. सोशल मीडिया से हासिल की इस फोटो में आप देख सकतें हैं की (“क्या कमाल की कारीगरी की है, ☺️ इस बन्दे को 10 लाख का ईनाम नही 20 लाख का ईनाम मिलना चाहिए “) माफ़ कीजिये हम थोडा भावुक हो गये.

इस कमाल की कारीगरी में देख सकतें हैं की 4 फिर चौड़ी और 8 फिट लम्बी जगह में किस शान से ताज महल खड़ा किया गया है. नीचे की जगह मात्र चार फिट की चौड़ी होने के बावजूद भी बन्दे ने सपनो के महल की उम्मीद नही त्यागी और कन्नी फावड़ा लेकर आ गया मैदान में.

तो सबसे पहले तो 4 फिट पर लिंटर डाला और 4 फिट आगे बढ़ा ली मतलब की फर्स्ट फ्लोर की चौड़ाई हो गयी अब 8 x 8 फिट. रुको अभी .. अभी खत्म कहाँ हुआ है

उसके बाद भी बंदे का हौसला देखो उसने 8 फिर के फ्लोर में छज्जा भी निकाल दिया और वो भी 6 फिट का .. शायद यहाँ उसने अपना बेडरूम बनाया हो , इसीलिए तो एक कोने में AC पर लगा है.

भई, माँ गये इस बन्दे की कलाकारी को.

यह फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है और उके टाइटल में लिखा है की इस बन्दे को नासा वाले ढूंढ रहे हैं उससे चाँद पर घर डिजाईन करवाने हैं.

हालाँकि यहाँ बात तो काफी मजाकिया तौर पर कही गयी है लेकिन आपको बताते चलें की इस तरह घर के निर्माण करना पूरी तरह से गैर क़ानूनी है. सरकारी सपत्ति चाहें भूमि में हो या उसकी परिधि में उपर की तरफ हो, सब पर सरकार का अधिकार है.