कोरोनावायरस से बुरी तरह जूझ रहे भारत की मदद के लिए ‘ईधी वेलफेयर ट्रस्ट’ आगे आया है. साथ ही ट्विटर पर भी पाकिस्तानी आवाम भारत के कोरोना हालात सुधरने को लेकर दुआएं मांग रही है.


पाकिस्तान के एक्टर, पत्रकार और आम लोग भारत के साथ कंधे से कंधे मिलाकर खड़े होने को लेकर कह रहे हैं. इस दौरान ट्विटर पर #PakistanstandswithIndia हैशटैग से लगातार ट्वीट किए जा रहे हैं. वर्तमान समय में भारत और पाकिस्तान दोनों ही मुल्क कोरोना से बुरी तरह प्रभावित हैं.


वहीं, ‘ईधी वेलफेयर ट्रस्ट’ ने कोरोना से निपटने के लिए भारत को 50 एंबुलेंस और सहायककर्मी मुहैया कराने की पेशकश की है. ट्रस्ट प्रमुख फैसल ईधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में कहा कि संगठन भारत में कोविड-19 संबंधी हालात पर निकटता से नजर रख रहा है. फैसल द्वारा पीएम मोदी को लिखे पत्र में कहा कि भारत पर महामारी के असाधारण प्रभाव के बारे में सुनकर हमें बहुत खेद है.


फैसल ने कहा कि इस महामारी से बड़ी संख्या में लोग प्रभावित हो रहे हैं. ईधी ट्रस्ट इस मुश्किल समय में भारतीयों के साथ सहानुभूति रखता है और वह भारत के लोगों की मदद के लिए 50 एम्बुलेंस और कर्मी भेज सकता है. उन्होंने कहा कि ट्रस्ट उनकी टीम को ईंधन, भोजन और अन्य जरूरी चीजों को मुहैया कराएगा. बता दें कि ईधी ट्रस्ट पाकिस्तान का एक वेलफेयर ट्रस्ट है, जो लोगों को मदद करता है. इसके अलावा, पाकिस्तान में वह गरीब लोगों को एंबुलेंस सेवा भी मुहैया कराता है.

कोरोना की वजह से भारत में अस्पतालों की स्थिति दयनीय हो गई है. हालांकि, इंटरनेट पर भारतीय लोग आगे आकर लोगों को मदद पहुंचाने का काम कर रहे हैं. ट्विटर समेत सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता से लेकर बेड्स की जानकारी को साझा किया जा रहा है. दूसरी ओर, पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के लोगों ने भी मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया है.

जहां एक ओर ईधी फाउंडेशन एंबुलेंस की पेशकश कर रहा है तो दूसरी ओर पाकिस्तानी आवाम भारत के लिए दुआएं मांग रही है. लोगों का कहना है कि भले ही दोनों मुल्कों के बीच रिश्ते तनावपूर्ण हैं, लेकिन मु’सीबत की इस घड़ी में सभी लोग एक साथ खड़े हैं.