क़तर के सत्तारूढ़ अमीर ने सोमवार को पहली बार सऊदी अरब का दौरा किया। उनका ये दौरा सऊदी अरब सहित चार खाड़ी देशों की और से कथित ना’केबं’दी के बाद हुआ है। जिसमे यूएई, मिस्र और बहरीन शामिल थे।

सऊदी और कतरी राज्य द्वारा संचालित मीडिया के अनुसार, क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के द्वारा एयरपोर्ट पर कतर अमीर शेख तमीम बिन हमद अल थानी का स्वागत किया गया। क्राउन प्रिंस के स्वागत से पता चलता है कि सऊदी अरब द्वारा छोटे और धनी खाड़ी राज्य के तीन साल से अधिक लंबे समय से चले आ रहे बहि’ष्का’र को समाप्त कर दिया। साथ ही इस साल के शुरू में हुए एक फैसले के बाद संबंधों में कैसे सुधार हो रहा है।


कतर के अमीर जनवरी में होने वाले उच्च स्तरीय खाड़ी अरब शिखर सम्मेलन के लिए सऊदी अरब में आखिरी बार आए थे और जिसने दरार को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। 2017 के बाद से यह उनकी पहली यात्रा थी। कतर अगले साल फीफा फुटबॉल विश्व कप की मेजबानी कर रहा है।

वहीं तुर्की के विदेश मंत्री भी दो दिवसीय यात्रा के लिए सऊदी अरब पहुंचे हैं। क्योंकि तुर्की ने भी राज्य के साथ संबंधों को सुधारने का प्रयास किया है जो कि 2018 के बाद से ही तना’वपूर्ण चल रहे है। इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी दो दिवसीय दौरे पर सऊदी पहुंचे थे।

हाल ही में ईरान की और से भी सऊदी अरब के साथ रिश्तों में सुधार के लिए बातचीत शुरू होने की पुष्टि की गई है तो वहीं मिस्र और तुर्की भी नजदीक आ रहे है। लीबिया में तेजी के साथ हालत सुधर रहे है।