आंतरिक मंत्रालय द्वारा शनिवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि नवंबर 2017 से अब तक सऊदी अरब में निवास और श्रम कानूनों के साथ-साथ सीमा सुरक्षा प्रणाली के 5.6 मिलियन से अधिक उल्लं’घनक’र्ताओं को गि’रफ्ता’र किया गया, जिनमें से 1,553,667 को उनके गृह देशों में भेज दिया गया।

मानव संसाधन और सामाजिक विकास मंत्रालय (एमएचआरएसडी) और पासपोर्ट के सामान्य निदेशालय (जवाज़त) सहित लगभग 19 मंत्रालय और सरकारी विभाग, पूरे राज्य में अवै’ध विदेशियों से छुटकारा पाने के अभियान का हिस्सा हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि पूरे देश के सभी क्षेत्रों में 5,615,884 उल्लं’घनक’र्ताओं को पकड़ा गया। इनमें से 4,304,206 प्रवासियों ने रेजीडेंसी कानूनों का उल्लं’घन किया था और 802,125 ने श्रम कानूनों का उल्लं’घन किया था। सीमा सुरक्षा व्यवस्था का उल्लं’घन करने वालों की संख्या 509,553 थी।

अभियान ने कहा कि कुछ 116,908 लोगों को दक्षिणी सीमाओं के माध्यम से राज्य में घु’सपैठ करने का प्रयास करते हुए पकड़ा गया था; ५४ प्रतिशत इथियोपियाई थे, ४३ प्रतिशत यमन और शेष ३ प्रतिशत विभिन्न अन्य राष्ट्रीयताओं से थे।

इसने कहा कि लगभग 9,508 को अवै’ध रूप से राज्य छोड़ने का प्रयास करते हुए पकड़ा गया था।

अभियान में कहा गया है कि 2,766 सउदी सहित 8,222 लोगों पर कई अ’वैध प्रवासियों को आवास और परिवहन प्रदान करने का आ’रोप लगाया गया था। कुछ 2,761 सउदी से पूछताछ की गई, उन्हें दंडि’त किया गया और रिहा कर दिया गया, जबकि 5 की अभी भी जांच की जा रही है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 53,916 प्रवासी, जिनमें 49,954 पुरुष और 3,962 महिलाएं शामिल हैं, को हिरा’सत में भेज दिया गया है। 714,208 उ’ल्लंघन’कर्ता’ओं को संक्षिप्त दं’ड दिया गया।

अभियान ने कहा कि 901,700 उल्लं’घनकर्ता’ओं को उनके दूतावासों और वाणिज्य दूतावासों को यात्रा दस्तावेज जारी करने के लिए भेजा गया था, जबकि 1,047,340 आउटबाउंड उड़ानों के लिए अपनी बुकिंग पूरी कर रहे थे। इस बीच, कुछ 1,553,667 उल्लं’घनक’र्ताओं को निर्वासित किया गया।