एक्सपो 2020 दुबई को देखते हुए संयुक्त अरब अमीरात ने देश में प्रवेश करने के लिए नियमों और कोरोना वायरस प्रोटोकॉल में ढील दी है। भारत में संयुक्त अरब अमीरात के राजदूत डॉ अहमद अल बन्ना ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत के सभी विजिटर्स चाहे उनके पास टूरिस्ट वीजा हो या वर्किंग वीजा, सभी को नियमों में ढील के बाद यूएई में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। एक्सपो 2020 दुबई 1 अक्टूबर 2021 से 31 मार्च, 2022 तक आयोजित किया जाएगा।

एक्सपो 2020 दुबई की जानकारी साझा करते हुए राजदूत ने कहा कि हमने दुबई एक्सपो में जाने के लिए सभी लोगों और विदेशियों को वीजा जारी करने और इस प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए एक सिस्टम भी बनाया है। उन्होंने कहा कि इस आयोजन में करीब 25 मिलियन विजिटर्स के शामिल होने की उम्मीद है। साथ ही इसमें व्यापार करने के लिए 180 से अधिक देशों के 46,000 से अधिक संगठनों की उपस्थिति रजिस्टर्ड है।

अल बन्ना ने भरोसा जताया है कि ‘एक्सपो 2020 दुबई में भारत से बड़ी संख्या में विजिटर्स आ सकते हैं।’ एक मीडिया ब्रीफिंग में बोलते हुए डॉ अल बन्ना ने कहा कि एक्सपो 2020 दुबई की सफलता के लिए भारत में नेतृत्व की ओर से एक मजबूत प्रतिबद्धता रही है। उन्होंने इसका श्रेय ‘संयुक्त अरब अमीरात और भारत के बीच भौगोलिक निकटता, दोनों देशों के बीच विशेष संबंध और घनिष्ठता को दिया है।’

एक्सपो 2020 दुबई भारतीय विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर और अन्य प्रमुख भारतीयों के बीच यूएई में नेताओं और अधिकारियों के बीच हाल की बातचीत में प्रमुख बिंदुओं में से एक रहा है। राजदूत ने कहा कि छह महीने तक चलने वाले इस मेगा इवेंट में भारत का दौरा बहुत अधिक ‘महत्वपूर्व’ होने की उम्मीद है। खासकर अब जब हमने यूएई में प्रवेश करने की प्रक्रियाओं को आसान कर दिया है और एक अलग प्रोटोकॉल है जिसे हम कोविड-19 के लिए लागू कर रहे हैं।